Category Thesis Service

Rashtriya ekikaran in hindi essay on swachh

Posted on by LILLA M.

rashtriya ekikaran around hindi essay or dissertation at swachh

Essay with Rashtriya Ekta Diwas

राष्ट्रीय एकता दिवस पर निबंध

Essay with Rashtriya Ekta Diwas राष्ट्रीय एकता दिवस पर निबंध

राष्ट्रीय एकता दिवस (राष्ट्रीय एकता दिवस) भारत सरकार द्वार लागू किया गया था

2014 में भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा इसका उद्घाटन किया गया था।

इस दिन हम वल्लभभाई पटेल को श्रद्धांजलि अर्पित करते है, जिन्होंने भारत को

एकजुट बनाये रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी थी।

 

राष्ट्रीय एकता दिवस कब  मनाया जाता है :

यह दिवस हर साल भारत गणराज्य के संस्थापक नेताओं में से एक सरदार

वल्लभभाई पटेल  के जन्मदिन की वार्षिक स्मृति के रूप में  Thirty-one अक्टूबर को मनाया जाता है।

 

भारत के गृह मंत्रालय द्वारा राष्ट्रीय एकता दिवस के आधिकारिक बयान में कहा गया है कि राष्ट्रीय एकता दिवस

एकता, अखंडता और सुरक्षा के वास्तविक और संभावित खतरों का सामना करने के लिए हमारे देश की अंतर्निहित

ताकत को दोबारा पुष्टि करने का अवसर प्रदान करेगा।

 

राष्ट्रीय एकता दिवस क्यों  मनाया जाता है :

इस दिन का उद्घाटन प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने  सरदार पटेल की मूर्ति पर पुष्प श्रद्धांजलि

अर्पित करके और नई दिल्ली में रन फॉर यूनिटी नामक कार्यक्रम को ध्वजांकित करके किया

गया था। इस कार्यक्रम की योजना सरदार पटेल द्वारा देश को एकजुट करने के प्रयासों को

उजागर करने की थी।

इस कार्यक्रम को शुरू करने का उद्देश्य सरदार वल्लभभाई पटेल के द्वारा देश के लिए उनके

असाधारण कार्यों को याद करके उनकी जयंती पर उन्हें  श्रद्धांजलि अर्पित करना है। उन्होंने

वास्तव में भारत को एकजुट रखने online distribution insure notification samples कड़ी मेहनत की।

 

राष्ट्रीय एकता दिवस पटेल के जन्मदिन के दिन मनाया जाता है क्योंकि, भारत के गृह मंत्री के रूप में

उनके rashtriya ekikaran for hindi essay or dissertation about swachh के दौरान,  स्वतंत्रता अधिनियम (1947) द्वारा 1947-49 तक  भारत में 550 से

अधिक स्वतंत्र रियासतों के एकीकरण का  श्रेय उन्हें  जाता है।

 

इस उत्सव को भारत के प्रधान मंत्री के भाषण के साथ शुरू  किया जाता है। राष्ट्रीय एकता दिवस

के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए  इस दिन एक राष्ट्रव्यापी मैराथन आयोजित किया जाता है।

यह  उत्सव  the lottery price tag by anton chekhov setting के युवाओं को जागरूक करने में मदद करता है और देश कीअभिन्न शक्ति को बनाए र

खने के लिए सभी को अवसर प्रदान करता है।

 

राष्ट्रीय एकता दिवस भारतीय नागरिकों को  यह एहसास दिलाने के में मदद करता है  राष्ट् की एकता,और अखंडता

सुरक्षा के लिए वास्तविक और संभावित खतरों में कैसे मदद करती है।

राष्ट्रीय एकता दिवस 2018 :

राष्ट्रीय guided imagery inventive writing दिवस 2018 बुधवार को पूरे भारत के  लोगों द्वारा मनाया जाएगा। इसे सरदार वल्लभभाई पटेल की

143 वीं जयंती के रूप में मनाया जाएगा।

 

सरदार वल्लभभाई पटेल के बारे में :

सरदार वल्लभभाई पटेल को भारत के आयरन मैन के रूप में भी जाना जाता है जिन्होंने भारत

को संयुक्त भारत  बनाने के लिये बहुत कड़ी मेहनत की। उन्होंने भारत के लोगों को साथ मिलकर

रहने का अनुरोध किया।

 

सरदार बल्लभ भाई पटेल का जन्म Thirty-one अक्टूबर को 1875 में गुजरात  में हुआ था।  वह एक राजनेता,

बैरिस्टर, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के नेता और भारत गणराज्य के संस्थापक थे। उन्होंने देश को एकजुट

और स्वतंत्र राष्ट्र बनाने के लिये और लोगों भारत के एकीकरण के लिये एक सामाजिक नेता के रूप  कड़ी

मेहनत  की।

 

उन्होंने  भारत के प्रथम गृह मंत्री और उप प्रधान मंत्री होने के नाते उन्होंने भारतीय Faundation

बनाने के लिए कई भारतीय रियासतों का एकीकरण में करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

उन्होंने पूरे देश में शांति बनाये रखने के लिए बड़े प्रयास किए। वह ई.एम.एच.एस.

(एडवर्ड

मेमोरियल हाई स्कूल बोर्सड, जिसे वर्तमान में झावरभाई दजीभाई पटेल हाई स्कूल के नाम से

जाना जाता है, के पहले अध्यक्ष और संस्थापक भी थे।

 

राष्ट्रीय एकता दिवस किस प्रकार मनाया जाता है :

सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती मनाने unit 9 pc structures p3 लिए हर साल राष्ट्रीय एकता दिवस एक पहल है।इस दिन

भारत के लोगों द्वारा विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किये जाते है हर साल सरदार पटेल की मूर्ति को

पटेल चौक, संसद स्ट्रीट, नई दिल्ली में पुष्प से श्रद्धांजलि दी जाती mini dissertation ideas regarding leadership सरकार द्वारा इस अवसर को मनाने के लिए भारत सरकार द्वारा विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं,

जैसे कि एकता बनाये रखने के लिए सभी को मिलकर भाग लेना, शपथ ग्रहण  करना समारोह मार्च।

सुबह 8.30 बजे से राजपथ पर विजय चौक से इंडिया गेट की राष्ट्रीय राजधानी में यह कार्यक्रम आयोजित किया जाता है।

 

दूसरा कार्यक्रम, जो कि सरकारी कार्यालयों, सार्वजनिक क्षेत्रों, सार्वजनिक संस्थानों आदि जगहों पर सबसे महत्वपूर्ण रूप

से आयोजित किया जाता है, इसे हम शपथ ग्रहण समारोह के नाम से जानते है। इसमें हम समूह में एकसाथ मिलकर रहने

की प्रतिज्ञा करते है।

इस कार्यक्रम स्कूलों, कॉलेजों, विश्वविद्यालयों, शैक्षिक संस्थानों,राष्ट्रीय सेवा योजना आदि के युवा  में बहुत

सक्रिय रूप से भाग लेते हैं।

 

ग्रामीण इलाकों में प्रमुख जिला, शहरों, क़स्बों  और भी कई स्थानों में एकता कार्यक्रम चलाने के लिये इस दिन

को मनाया जाता है।

 

 

 

 

FOR Have a look at a Youtube CHANNEL

CLICK HERE

 

 

 

DoLafz की नयी पोस्ट ईमेल में प्राप्त करने के लिए Hint Upwards करें

Friends अगर आपको ये Post  ” Composition with Rashtriya Ekta Diwas राष्ट्रीय एकता दिवस पर निबंध ” पसंद आई हो तो आप इसे Publish कर सकते हैं।

 

कृपया Remark के माध्यम से हमें बताएं आपको ये पोस्ट ” Essay relating to Rashtriya Ekta Diwas राष्ट्रीय एकता दिवस पर निबंध”  कैसी लगी।

Filed Under: Training, EssayTagged With: Dissertation relating to Rashtriya Ekta Diwas, essay at rashtriya ekta on hindi, essay regarding rashtriya parv within hindi, nation's integration article, rashtriya ekikaran, rashtriya ekta, rashtriya ekta diwas, rashtriya ekta diwas nibandh, rashtriya ekta essay with hindi, rashtriya ekta nibandh, rashtriya ekta par nibandh, function pertaining to unity, sardar vallabhbhai patel jayanti, vallabhbhai patel, कब मनाया जाता है, राष्ट्रीय एकता दिवस, राष्ट्रीय एकता दिवस 2018, राष्ट्रीय एकता दिवस पर निबंध rashtriya ekikaran during hindi dissertation on swachh October, राष्ट्रीय एकता में हिंदी का महत्व, वल्लभ भाई पटेल जयंती

rashtriya ekikaran with hindi essay at swachh

0 thoughts on “Rashtriya ekikaran in hindi essay on swachh

Add comments

Your e-mail will not be published. Required fields *